Tutla Bhavani Temple : एक प्राकृतिक धार्मिक तीर्थ स्थल

Tutla Bhavani Temple

रोहतास जिला का Tutla Bhavani Temple या तुतला धाम एक धार्मिक तीर्थ स्थल है। यह तीन तरफ से घने जंगल से घिरा हुआ और दूसरे तरफ उचे खड़े पहाड़ों के नीचे स्थित है। यह जिले के सबसे सुंदर धार्मिक तीर्थस्थलों में से एक है। जिला मुख्यालय sasaram से 40 किलोमीटर और डेहरी ऑन सोन से 20 किलोमीटर की दुरी पर तिलौथू प्रखंड में कैमूर की मनोरम पहाडियों में स्थित है। यहाँ माँ तुतलेश्वरी की पूजा की जाती है। मंदिर के पास ही कछुअर नदी बहती है। आप तुतला भवानी मंदिर के आसपास की मनोरम प्राकृतिक छटा को निहार सकते है। दो सीधे या खड़े पहाड़ों के बिच से 200 फुट की ऊंचाई से झरने का पानी गिरता है। इस झरने…

Gupta Dham Temple : जहाँ भगवान शिव छुप गए थे भस्मासुर के डर से

Gupta Dham Temple

बिहार का रोहतास जिला ऐतिहासिक पर्यटन के साथ साथ धार्मिक पर्यटन स्थल के लिए भी लोकप्रिय है। हमलोग आज प्रकृति की गोद में स्थित धार्मिक पर्यटन स्थल की यात्रा करेंगे और इस धार्मिक महत्व के बारे में जानेंगे। Gupta Dham Temple रोहतास जिला अंतर्गत Chenari block में कैमूर पहाड़ीयो और प्रकति की गोद में स्थित है। यह भगवान शिव को समर्पित है। इस स्थान पर भगवान शिव के प्राकृतिक शिव लिंग की रूप में गुफा के अंदर पूजा की जाती है। जंगलो से घिरे गुप्ता धाम गुफा के प्राचीनता के बारे में अभी तक कोई प्रमाणित प्रमाण नहीं मिले है। यह religious place स्थानीय और आस पास के राज्यों के धार्मिक पर्यटकों के बिच बहुत ही लोकप्रिय है। झारखण्ड के…

Rohtas Garh Fort Sasaram: जिले का एक ऐतिहासिक किला

Rohtas Garh Fort Sasaram

हमलोग रोहतास जिले घूमने की शुरुआत ऐतिहासिक पर्यटन स्थल से करेंगे। बिहार का रोहतास जीला अपने में कई ऐतिहासिक विरासत को संजोकर रखा हुआ है, Rohtas Garh Fort Sasaram एक ऐसा ही ऐतिहासिक विरासत स्थल है । यह भारत देश के सबसे प्राचीनतम किलों में से एक है। यह किला रोहतास जिला मुख्यालय Sasaram से लगभग 52 k.m और Dehri On Sone शहर से 40 k.m की दुरी पर है। यह समुद्र तल से 1500 मीटर की उचाई पर बना हुआ है। बाहर से किला बहुत ही भब्या दिखाई देता है और जिवंत भी। इतिहासकारों के अनुशार महान सूर्यवंशी राजा हरिश्चंद्र पुत्र रोहिताश्व ने इस प्राचीन किले का निर्माण कराया था। यह किला बहुत से शासको के शासन का गवाह…

Maa Tarachandi Temple : देश के 52 शक्ति पीठो में से एक

Maa Tarachandi Temple

रोहतास जिला मुख्यालय सासाराम से कुछ दुरी पर और दिल्ली -कोलकाता ग्रैंड ट्रंक रोड NH 2 के किनारे एक Maa Tarachandi Temple स्थित है। इसको लोग माँ ताराचंडी मंदिर के नाम से जानते है। यह देश के सबसे पुराने 52 Shakti Peetha में से एक है। पहाड़ी के एक छोटे गुफा में यह जिले का ऐतिहासिक शक्तिपीठ स्थित है। सड़क विस्तार के कारण मंदिर से सटे पहाड़ का एक तरफ का कुछ भाग तोड़कर सड़क बना दिया गया है और शेष पर मंदिर का विस्तार किया गया है। गुफा के दिवार पर 1111 ईस्वी पूर्व के पाली भाषा के लिखावट मिलते है। जिससे यह साबित होता है की मंदिर बहुत प्राचीन है। पहाड़ पर स्थित गुफा की उचाई समतल भूमि…

Sher Shah Suri Tomb: ऐतिहासिक धरोहर और देश का दूसरा ताजमहल

Sher Shah Suri Tomb

बिहार का Rohtas जिला का इतिहास बहुत ही गौरवशाली रहा है, इसलिए यह बहुत से प्राचीन और ऐतिहासिक धरोहरों के लिए पुरे राज्य में जाना जाता है। आज हमलोग ऐसे ही एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक धरोहर स्थल की यात्रा करेंगे। Sher Shah Suri Tomb रोहतास जिला मुख्यालय में स्थित एक ऐतिहासिक धरोहर है। देश, विदेश के पर्यटको के बिच बहुत लोकप्रिय है। इस मकबरे को भारत के दूसरे Tajmahal के रूप में जाना जाता है। मकबरे को स्थानीय लोग पानी रोजा के नाम जानते है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण इस मकबरे की देख रेख करता है। भारत देश के सम्राट रहते हुए शेर शाह ने बहुत से आश्चर्यजनक उपलब्धियाँ हाशिल की थी, जो इस प्रकार है देश के सबसे बड़े रोड नेटवर्क…