Vishnupad Temple: प्राचीन मंदिर जहाँ है भगवान विष्णु का चरण चिह्न

Vishnupad Temple

गया घूमने आने वाले पर्यटकों के बिच Vishnupad Temple बहुत ही लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। यह मंदिर फल्गु नदी के पश्चिमी तट पर स्थित है। यह एक प्राचीन और ऐतिहासिक मंदिर है और भगवान विष्णु को समर्पित है। इस मंदिर में 40 सेंटीमीटर लम्बे भगवान विष्णु के पदचिन्हों की पूजा की जाती है। लोगों के अनुसार इस मंदिर का सम्बन्ध गायसुर और भगवान विष्णु के युद्ध से है। Gaiasur तपस्या कर वरदान माँगा की जो उसे देखेगा उसे मोक्ष प्राप्त होगा। वरदान के कारन, अनैतिक लोग बिना धार्मिक कार्य के भी मोक्ष को प्राप्त करने लगे। तब Lord Vishnu ने उस असुर के सिर पर अपने दाहिने पद से धरती के अंदर चला गया और भगवान विष्णु का पैर सतह…

Gaya: पिण्डदान व श्राद्ध के लिए देश में सबसे प्रमुख तीर्थस्थल

Gaya

गया बिहार राज्य के सबसे प्रमुख धार्मिक तीर्थ स्थलों में से एक है। इसलिए आज हमलोग गया के प्रमुख तीर्थ स्थलों की यात्रा करेंगे। यह सुंदर शहर प्रकृति की गोद में बसा है। यह तीन तरफ से छोटी पहाड़ी से घिरा हुआ है और दूसरे तरफ Phalgu River है। हरे भरे पेड़ और ऊंचे पहाड़ शहर की सुंदरता को कई गुना बढ़ा देते है। Gaya तीर्थ स्थल एक धार्मिक और प्राचीन नगर है। यह धार्मिक शहर मौर्य काल में एक प्रमुख नगर था। इस नगर पर मध्यकाल में मुगल सम्राटों का और बाद में अंग्रेजों का राज था। इस प्राचीन नगर की प्रसिद्धि वाराणसी नगर की तरह ही एक धार्मिक नगर के रूप में है। फल्गु नदी के तट पर…

Umga Sun Temple : औरंगाबाद के सबसे प्रसिद्ध पर्यटक आकर्षणों में से एक

Umga Sun Temple

बिहार का औरंगाबाद जिला बहुत से ऐतिहासिक और धार्मिक पर्यटन स्थल जैसे: देव सूर्य मंदिर, देव कुंड, पवई और उमगा मंदिर आदि के लिए जाना जाता है । Umga Sun Temple जिले का दूसरा सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थल है और पर्यटक इसको देखने के लिए वर्ष भर आते रहते है। आज हमलोग उमगा मंदिर की यात्रा करेंगे और जानेंगे मंदिर से सम्बंधित कुछ रोचक बातें। यह एक प्राचीन Vaishnav Temple है। औरंगाबाद शहर से पूर्व में 24 k.m की दूरी पर स्थित है। इस मंदिर की वास्तुकला, Aurangabad district स्थित देव सूर्य मंदिर की तरह दिखाई देता है। मंदिर का निर्माण सफेद ग्रेनाईट पथरों के स्क्वायर ब्लॉक से हुआ है। यह खूबसूरत मंदिर 150 फुट उच्चे पहाड़ी पर स्थित है।…

Dev Sun Temple : सबसे बड़े धार्मिक उत्सव छठ त्यौहार का केन्द्र

Dev Sun Temple

आज हम लोग बिहार राज्य के औरंगाबाद जिला स्थित Dev Sun Temple की यात्रा करेंगे, क्योंकि यह देव भूमि राज्य के सबसे बड़े सांस्कृतिक उत्सव Chhath Puja के लिए जाना जाता है। बिहार राज्य अपने धार्मिक स्थलों के लिए पुरे भारत देश में मशहूर है। Aurangabad जिले का सूर्य मंदिर राज्य के महत्वपूर्ण Religious place में से एक है। यह प्राचीन मंदिर भगवान सूर्य को समर्पित है। मंदिर की उचाई होने के कारण यह दूर से ही दिखाई देने लगती है। मंदिर के प्रवेश द्वार पर God sun रथ पर सवार है और रथ में 7 घोड़े है। रथ के घोड़े को देखने से लगता है, मानो दौड़ कर आसमान की तरफ जा रहे है। इस प्रसिद्ध Dev Sun Temple…

Tutla Bhavani Temple : एक प्राकृतिक धार्मिक तीर्थ स्थल

Tutla Bhavani Temple

रोहतास जिला का Tutla Bhavani Temple या तुतला धाम एक धार्मिक तीर्थ स्थल है। यह तीन तरफ से घने जंगल से घिरा हुआ और दूसरे तरफ उचे खड़े पहाड़ों के नीचे स्थित है। यह जिले के सबसे सुंदर धार्मिक तीर्थस्थलों में से एक है। जिला मुख्यालय sasaram से 40 किलोमीटर और डेहरी ऑन सोन से 20 किलोमीटर की दुरी पर तिलौथू प्रखंड में कैमूर की मनोरम पहाडियों में स्थित है। यहाँ माँ तुतलेश्वरी की पूजा की जाती है। मंदिर के पास ही कछुअर नदी बहती है। आप तुतला भवानी मंदिर के आसपास की मनोरम प्राकृतिक छटा को निहार सकते है। दो सीधे या खड़े पहाड़ों के बिच से 200 फुट की ऊंचाई से झरने का पानी गिरता है। इस झरने…

Gupta Dham Temple : जहाँ भगवान शिव छुप गए थे भस्मासुर के डर से

Gupta Dham Temple

बिहार का रोहतास जिला ऐतिहासिक पर्यटन के साथ साथ धार्मिक पर्यटन स्थल के लिए भी लोकप्रिय है। हमलोग आज प्रकृति की गोद में स्थित धार्मिक पर्यटन स्थल की यात्रा करेंगे और इस धार्मिक महत्व के बारे में जानेंगे। Gupta Dham Temple रोहतास जिला अंतर्गत Chenari block में कैमूर पहाड़ीयो और प्रकति की गोद में स्थित है। यह भगवान शिव को समर्पित है। इस स्थान पर भगवान शिव के प्राकृतिक शिव लिंग की रूप में गुफा के अंदर पूजा की जाती है। जंगलो से घिरे गुप्ता धाम गुफा के प्राचीनता के बारे में अभी तक कोई प्रमाणित प्रमाण नहीं मिले है। यह religious place स्थानीय और आस पास के राज्यों के धार्मिक पर्यटकों के बिच बहुत ही लोकप्रिय है। झारखण्ड के…

Rohtas Garh Fort Sasaram: जिले का एक ऐतिहासिक किला

Rohtas Garh Fort Sasaram

हमलोग रोहतास जिले घूमने की शुरुआत ऐतिहासिक पर्यटन स्थल से करेंगे। बिहार का रोहतास जीला अपने में कई ऐतिहासिक विरासत को संजोकर रखा हुआ है, Rohtas Garh Fort Sasaram एक ऐसा ही ऐतिहासिक विरासत स्थल है । यह भारत देश के सबसे प्राचीनतम किलों में से एक है। यह किला रोहतास जिला मुख्यालय Sasaram से लगभग 52 k.m और Dehri On Sone शहर से 40 k.m की दुरी पर है। यह समुद्र तल से 1500 मीटर की उचाई पर बना हुआ है। बाहर से किला बहुत ही भब्या दिखाई देता है और जिवंत भी। इतिहासकारों के अनुशार महान सूर्यवंशी राजा हरिश्चंद्र पुत्र रोहिताश्व ने इस प्राचीन किले का निर्माण कराया था। यह किला बहुत से शासको के शासन का गवाह…

Maa Tarachandi Temple : देश के 52 शक्ति पीठो में से एक

Maa Tarachandi Temple

रोहतास जिला मुख्यालय सासाराम से कुछ दुरी पर और दिल्ली -कोलकाता ग्रैंड ट्रंक रोड NH 2 के किनारे एक Maa Tarachandi Temple स्थित है। इसको लोग माँ ताराचंडी मंदिर के नाम से जानते है। यह देश के सबसे पुराने 52 Shakti Peetha में से एक है। पहाड़ी के एक छोटे गुफा में यह जिले का ऐतिहासिक शक्तिपीठ स्थित है। सड़क विस्तार के कारण मंदिर से सटे पहाड़ का एक तरफ का कुछ भाग तोड़कर सड़क बना दिया गया है और शेष पर मंदिर का विस्तार किया गया है। गुफा के दिवार पर 1111 ईस्वी पूर्व के पाली भाषा के लिखावट मिलते है। जिससे यह साबित होता है की मंदिर बहुत प्राचीन है। पहाड़ पर स्थित गुफा की उचाई समतल भूमि…

Sher Garh Fort Rohtas: रोहतास का सबसे रहस्मय किला

Sher Garh Fort Rohtas

भारत के प्राचीन और ऐतिहासिक किले, अपने अंदर कई रहस्य को समेटे हुए है। बिहार के रोहतास जिला मुख्यालय से 10 k.m की दुरी पर चेनारी प्रखंड के कैमूर पहाड़ी पर स्थित एक ऐसा ही किला है और इसको Sher Garh Fort Rohtas के नाम से जाना जाता है। प्रकृति की खूबसूरती के बिच में स्थित होने के कारण, आस पास का दृश्य बहुत ही मनोरम होता है। दूसरे प्रदेश के बहुत कम ही लोग इस किले के बारे में जानते है। इतिहासकारों के अनुसार ,इस किले का निर्माण Afghan ruler शेर शाह सूरी ने सन 1540 से 1545 बिच कराया था। इस किले का निर्माण अपने दुश्मनों से बचने के लिए कराया गया था। शेर शाह अपने परिवार और…

Sher Shah Suri Tomb: ऐतिहासिक धरोहर और देश का दूसरा ताजमहल

Sher Shah Suri Tomb

बिहार का Rohtas जिला का इतिहास बहुत ही गौरवशाली रहा है, इसलिए यह बहुत से प्राचीन और ऐतिहासिक धरोहरों के लिए पुरे राज्य में जाना जाता है। आज हमलोग ऐसे ही एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक धरोहर स्थल की यात्रा करेंगे। Sher Shah Suri Tomb रोहतास जिला मुख्यालय में स्थित एक ऐतिहासिक धरोहर है। देश, विदेश के पर्यटको के बिच बहुत लोकप्रिय है। इस मकबरे को भारत के दूसरे Tajmahal के रूप में जाना जाता है। मकबरे को स्थानीय लोग पानी रोजा के नाम जानते है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण इस मकबरे की देख रेख करता है। भारत देश के सम्राट रहते हुए शेर शाह ने बहुत से आश्चर्यजनक उपलब्धियाँ हाशिल की थी, जो इस प्रकार है देश के सबसे बड़े रोड नेटवर्क…