Maa Tarachandi Temple : देश के 52 शक्ति पीठो में से एक

Maa Tarachandi Temple

रोहतास जिला मुख्यालय सासाराम से कुछ दुरी पर और दिल्ली -कोलकाता ग्रैंड ट्रंक रोड NH 2 के किनारे एक Maa Tarachandi Temple स्थित है। इसको लोग माँ ताराचंडी मंदिर के नाम से जानते है। यह देश के सबसे पुराने 52 Shakti Peetha में से एक है। पहाड़ी के एक छोटे गुफा में यह जिले का ऐतिहासिक शक्तिपीठ स्थित है। सड़क विस्तार के कारण मंदिर से सटे पहाड़ का एक तरफ का कुछ भाग तोड़कर सड़क बना दिया गया है और शेष पर मंदिर का विस्तार किया गया है। गुफा के दिवार पर 1111 ईस्वी पूर्व के पाली भाषा के लिखावट मिलते है। जिससे यह साबित होता है की मंदिर बहुत प्राचीन है।

पहाड़ पर स्थित गुफा की उचाई समतल भूमि के बराबर है। इसलिए प्रत्येक आयुवर्ग के तीर्थयात्री आसानी से माता तारा चंडी की पूजा करते है और किसी भी श्रद्धालु को दिक्क्त नहीं होता है। गुफा के गर्भगृह में माँ ताराचंडी की मूर्ति एक बड़े काले पत्थर से जुडी हुई है। माता के मूर्ति के आस पास अन्य देवी देवता के मंदिर भी स्थित है, जिसमे काले पत्थर की शिव की मूर्ति ,भैरव बाबा , हनुमान ,गणेश और भगवान सूर्य आदि खूबसूरत मूर्ति देखने को मिलता है । गर्भगृह में एक अखण्डज्योति हमेसा जलती रहती है। गुफा के ऊपर उजले संगमरमर के 3 मंजिला मंदिर बना हुआ है ,जिसमे माता दुर्गा के अन्य रूपों की मूर्ति स्थापित है।

Historical Shaktipeeth of the district (जिले का ऐतिहासिक शक्तिपीठ)

हिन्दू मान्यता के अनुसार इस स्थान पर माँ सती की दाहिनी आँख गिरा है ,इसलिए इसका नाम ताराचंडी पड़ा। मंदिर परिसर के अंदर और मुख्य मंदिर से कुछ दुरी पर मस्जिद बना हुआ है और इस मस्जिद का निर्माण Aurangzeb ने कराया था।

Maa Tarachandi Temple
माँ ताराचंडी मंदिर का एक खूबसूरत फोटो @ copyright

मुख्य मंदिर के आस पास के रास्ते पर पर्यटकों और श्रद्धालु के लिए कई पूजा सामग्री की दुकान और साथ ही साथ खाने की दुकान भी है। प्रत्येक वर्ष हजारों – लाखों की संख्या में पर्यटक और भक्तगण माता के दर्शन करने के लिए आते है। नवरात्र के दौरान यहाँ पर काफी श्रद्धालु आते है। प्रकति की गोद में स्थित होने के कारन यहाँ का वातावरण वर्ष भर बहुत ही सुहाना और भक्तिमय रहता है। यह Sasaram घूमने आने वाले पर्यटकों के लिए सबसे प्रमुख Religious tourist place है।

जिले का एक प्राचीन मंदिर और यह हिन्दू – मुस्लिम एकता का एक खूबसूरत उदाहरण है

Maa Tarachandi Temple Opening Time (माँ ताराचंडी मंदिर खुलने का समय)

खुलने का समय : 04:00 am

बंद होने का समय : 08:00 pm

Tourist places near Mata Tarachandi Temple (माँ ताराचंडी मंदिर के आस पास के पर्यटन स्थल)

  1. Tutla Bhavani Temple ( तुतला भवानी मंदिर )
  2. Gupta Dham Temple ( गुप्ता धाम मंदिर )
  3. Rohtas Garh Fort Sasaram ( रोहतास गढ़ किला सासाराम )
  4. Sher Shah Suri Tomb ( शेर शाह सूरी मकबरा )
  5. Sher Garh Fort Rohtas ( शेर गढ़ किला रोहतास )
  6. Manjhar Kund Waterfall ( मांझर कुंड झरना )
  7. Pilot Baba Ashram ( पायलट बाबा आश्रम )
  8. Karamchat Dam ( करमचट बांध )

How to reach Maa Tarachandi Temple (माँ ताराचंडी मंदिर कैसे पहुंचे)

सड़क : ” सासाराम बस अड्डा ” सबसे निकटतम बस अड्डा है।

रेल : ” सासाराम रेलवे स्टेशन” और “डेहरी ऑन सोन रेलवे स्टेशन “ सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन है।

हवाई : ” वाराणसी हवाई अड्डा ” सबसे निकटतम हवाई अड्डा है।

About the Author: antitra team

You May Also Like

%d bloggers like this: