Bakhtiyar Khan Tomb : कैमूर स्थित शेरशाह सुरी सेनापति का मकबरा

Bakhtiyar Khan Tomb

आज हमलोग कैमूर जिले के ऐतिहासिक पर्यटन स्थल की यात्रा करेंगे। जिले में वैसे तो घूमने के लिए बहुत से सुंदर और मन को आनन्द देने वाले पर्यटन स्थल है। लेकिन चैनपुर स्थित Bakhtiyar Khan Tomb सबसे अलग पर्यटन स्थल है। यह मकबरा कैमूर के चैनपुर प्रखंड में कुहिरा नदी के तट पर स्थित है। कैमूर जिला मुख्यालय भभुआ से लगभग 13 km की दूरी पर स्थित है। इस ऐतिहासिक heritage monument की देखभाल भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ASI करता है।

इतिहासकारों और पुरातत्वविदों के अनुसार यह एक मकबरा है। इसका निर्माण 16 वी से 17 वी शताब्दी के दौरान हुआ था। बाहर से यह बहुत ही खूबसूरत और जिवंत दिखाई देता है। यह इंडो – अफगान वास्तुकला शैली ( Indo-Afghan Architectural Style ) का बहुत ही सुंदर उदहारण है। यह महान शासक शेरशाह सुरी के रिस्तेदार और उनके सेनापती बख्तियार खा का मकबरा है।

Bakhtiyar Khan Tomb Design ( बख्तियार खान मकबरा का बनावट )

16 वी शताब्दी में निर्मित यह मकबरा बिहार में अफगान वास्तुकला ( Afghan Architecture ) का प्रमुख इमारतों में से एक है। यह बाहर से एक बार देखने पर आपको सासाराम स्थित शेरशाह सूरी के पिता हसन खां के मकबरे के सामान ही दिखाई देता है, परन्तु हसन खां के मकबरे से बहुत बड़ा है और बेहद सुंदर है। इसका निर्माण बख्तियार खान ने कराया था। मकबरे के पास पहाड़ी से देखने पर इसका बहुत ही सूंदर दृश्य दिखाई देता है।

अफगान वास्तुकला शैली का एक अदुतीय उदहारण

मकबरा 288 फूट लम्बा और 230 फूट चौड़े विशाल छेत्रफल में 8 फुट ऊंची चहारदीवारी के केन्द्र में स्थित है। अष्टकोणीय योजना पर आधारित इसका निर्माण लाल पत्थरों से किया गया है। इस मकबरे में कुल 7 दरवाजे और मकबरे के बहरी दीवारों पर कुरान शरीफ के आयतो को पत्थरों पर बहुत ही खूबसूरती से लिखा गया गया है। मकबरे के मुख्य हॉल के ऊपर अर्धचन्द्राकार विशाल गुम्बद और इसके आठ कोणों पर खूबसूरत नक्कासीदार बुर्जियाँ बनी हुई है। मकबरे के बाहर 8 फीट 4 इंच चौड़ी मेहराबदार बरामदा बना हुआ है। बरामदा में कुल 24 छोटे गुंबद बने हुए हैं। यह दो मंजिला मकबरा है। मुख्य हॉल में बख्तियार खान के कब्र और उनके रिश्तेदारों के 29 कब्र भी साथ में बने हुए है।

The best time to visit Bakhtiyar Khan Tomb (बख्तियार खान मकबरे की यात्रा का सबसे अच्छा समय)

वैसे तो यह ऐतिहासिक और पुरातत्व धरोहर सरकारी अवकाश को छोड़ कर पुरे वर्ष पर्यटकों के लिए खुला रहता है। परन्तु October – March तक का मौसम पर्यटकों के घूमने के लिए सबसे अच्छा समय होता है।

Tourist places near Bakhtiyar Khan Tomb (बख्तियार खान मकबरा के पास के पर्यटक स्थल)

  1. Mundeshwari temple ( मुंडेश्वरी मंदिर )
  2. Telhar Waterfall ( तेलहर वॉटरफॉल )
  3. Kaimur Wildlife Sanctuary ( कैमूर वन्यजीव अभ्यारण )

How to reach Bakhtiyar Khan Tomb ( बख्तियार खान का मकबरा कैसे पहुंचे )

सड़क : चैनपुर स्थित बख्तियार खान का मकबरा, कैमूर जिला मुख्यालय भभुआ (Bhabua) से लगभग 20 k.m दूर और मोहनिया सहर से लगभग 30 k.m दूर स्थित है। यह मकबरा सड़क मार्ग से जिला मुख्यालय से बहुत अच्छे से जुड़ा हुआ है। भभुआ से आप बस , टेम्पू और निजी वाहन द्वारा आसानी से पंहुचा जा सकता है।

रेलवे : इस मकबरे का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन लगभग 32 k.m दूर मोहनिया सहर स्थित “Bhabua Road Railway Station” है।

वायु : लगभग 140 k.m दूर वाराणसी एयरपोर्ट या Babatpur Airport यहाँ का सबसे निकटतम एयरपोर्ट है।

सावधानी:

  1. चुकी यह Chainpur शहर के बाहर है और आस पास ज्यादा चहल पहल नहीं रहता है इसलिए अकेले कभी न जाये। कोसिस करे की दो से ज्यादा लोग साथ में हो।
  2. मकबरे के आस पास खाने की कोई दुकान नहीं है इसलिए खाने के लिए कुछ ले कर जाइये।
  3. कोसिस कीजिए की दिन में जाये और शाम होने से पहले चैनपुर शहर पहुंच भी जाये।

About the Author: antitra team

You May Also Like

%d bloggers like this: